Get DO Help

फ्लोर टेस्ट से पहले ही भाजपा का विधानसभा से वॉकआउट, येदियुरप्पा ने कुमारस्वामी को गिरगिट कहा


कर्नाटक विधानसभा में कुमारस्वामी के फ्लोर टेस्ट के पहले पूर्व मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने कहा- 'कुमारस्वामी गिरगिट की तरह, जेडीएस-कांग्रेस का मकसद मोदी को सत्ता से दूर रखना है। ये गठबंधन जल्द हीटूट जाएगा। अगर सोमवार तक आपने किसानों का कर्जमाफ नहीं किया तो हम राज्य में बंद का आह्वान करेंगे।' इसके बाद भाजपा ने सदन से वॉकआउट कर दिया। इससे पहले कांग्रेस के नेता रमेश कुमार को स्पीकर चुना गया। वे पहले भी विधानसभा अध्यक्ष रह चुके हैं। रमेश कुमार के स्पीकर बनने के तुरंत बाद एचडी कुमारस्वामी ने एक लाइन में विश्वासमत का प्रस्ताव पेश किया। जनता दल सेक्युलर के विधानसभा में 36 मेंबर हैं, कांग्रेस के 78। दोनों पार्टियों के गठबंधन ने बसपा, केपीजेपी के एक-एक और एक निर्दलीय विधायक के समर्थन का दावा किया। दूसरी ओर भाजपा का संख्या बल 104 है। ऐसे में कुमारस्वामी का बहुमत साबित करना तय माना जा रहा है।

कर्नाटक विधानसभा की मौजूदा स्थिति

- कर्नाटक में कुल सीटें 224 हैं। दो पर मतदान नहीं हुआ है। मुख्यमंत्री कुमारस्वामी दो सीटों पर चुनाव जीतें हैं। इसलिए उनकी एक सीट कम हो जाएगी।

- कुमारस्वामी की एक सीट और एक स्पीकर घटाने पर संख्या बचती है = 220

- बहुमत के लिए जरूरी = 111
- कांग्रेस (78-1 स्पीकर) + जेडीएस (38-1 कुमारस्वामी) = 114
- भाजपा = 104

स्पीकर के लिए भाजपा ने अपने कैंडिडेट का नाम वापस लिया

- फ्लोर टेस्ट के ठीक पहले भाजपा के सुरेश कुमार ने अपना नाम वापस ले लिया। भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने कहा- स्पीकर पद की गरिमा बनाए रखने के लिए भाजपा ने अपने उम्मीदवार का नाम वापस लिया।

- विधानसभा शुरू होने से पहले कांग्रेस नेता और उप मुख्यमंत्री जी परमेश्वर ने जेडीएस के साथ गठबंधन के मुख्यमंत्री को लेकर बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने पूरे पांच साल तक के कार्यकाल के लिए बतौर सीएम एचडी कुमारस्वामी का समर्थन करने पर अब तक कोई फैसला नहीं लिया है।

9 दिन से रिजॉर्ट में थे कांग्रेस-जेडीएस विधायक

- विश्वासमत से पहले कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों को होटल में ही रखा गया था। कांग्रेस के विधायक हिल्टन एम्बेसी गोल्फलिंक में थे, जबकि जेडीएस के विधायक प्रेस्टीज गोल्फशायर रिसॉर्ट में थे।

- रिपोर्ट में दावा किया जा रहा था कि विधायकों को टेलीफोन का इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं दी गई थी। विधायकों ने केवल एक दिन के लिए अपने घर जाने की इजाजत मांगी, लेकिन इसे भी नामंजूर कर दिया गया। विधायकों को मीडिया से भी दूर रखा गया। हालांकि, कांग्रेस और जेडीएस नेताओं ने इन खबरों को खारिज कर दिया।

- एक नेता ने कहा कि विधायकों को कैद करके रखने की खबरें गलत हैं। अगर आप इसे कैद कहते हैं तो हर कोई उनकी (विधायकों) तरह रहना चाहेगा। ये लोग भूल रहे हैं कि वे बेहद सुख-सुविधा वाले होटलों में हैं, जहां का खर्च आम आदमी नहीं उठा सकता।

- एचडी कुमारस्वामी ने बुधवार को कर्नाटक के 24वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। उनके साथ कांग्रेस के जी. परमेश्वर ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली। समारोह के बाद नरेंद्र मोदी ने कुमारस्वामी को फोन पर बधाई दी। इस शपथ ग्रहण में 2019 के लोकसभा चुनाव के संभावित मोदी विरोधी मोर्चे की तस्वीर नजर आई। एक मंच पर कांग्रेस-जेडीएस समेत 13 दलों के प्रमुख मौजूद थे। कांग्रेस समेत इन दलों के पास अभी लाेकसभा में 133 सीटें हैं। यह आंकड़ा भाजपा की मौजूदा 272 लोकसभा सीटों का 48% है।

Source of news : https://www.bhaskar.com/indian-national-news-in-hindi/news/karnataka-assembly-floor-test-news-and-updates-5879979.html

Recent Comments

Leave Comments

Top